एलोवेरा संजीवनी के 12 फायदे ( Aloe vera gel ke fayde aur Nuksan )

By | March 25, 2017

ग्वारपाठा को एलोवेरा या धृतकुमारी भी कहते है। प्राचीनकाल से ही एलोवेरा को एक औषधि के रूप में जाना जाता हैं। क्योंकि इसके इस्तेमाल से कई बीमारियां हमारे शरीर से दूर रहती हैं। एलो वेरा के पौधे को अपने घर में या गमले में आसानी से लगाया जा सकता हैं। इसकी लंबी बड़ी मोटी हरी पत्तियों के किनारे पर कांटे होते हैं। Aloe vera शरीर के लिए संजीवनी की तरह काम करता हैं। एलोवेरा की 200 से भी ज्यादा प्रजातीय पायी जाती हैं। यह हमारी त्वचा, बाल और शरीर के लिए हर तरह से लाभदायक हैं।

https://www.youtube.com/watch?v=HTU8UPt7tM0

एलो वेरा के फायदे और लाभ ( Aloe vera ke fayde ) :

  • एलो वेरा का सेवन करने से यह पाचन शक्ति को मजबूत करता हैं। यह पेट सम्बन्धी बिमारियों को दूर करने में सहायक है। ज्यादा फायदे के लिए आप एलो वेरा में शहद और निम्बू मिलाकर सेवन कर सकते हैं।
  • किसी भी उम्र के लोगो को कब्ज की समस्या रहती हैं, ऐसे में एलो वेरा का जूस पीने से कब्ज में फायदा होता है. एलो वेरा को छीलकर उसके गुद्दे के सेवन से यकृत मजबूत और इसकी कार्य क्षमता में बढ़ोतरी होती हैं।
  • Aloe vera में अत्यधिक मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट तत्व होते हैं। जो की शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं। जिससे हमारे शरीर में रोगों से लड़ने की क्षमता बनी रहती हैं। जिससे हमारा शरीर स्वस्थ्य रहता हैं।

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : 7821878500

  • एलो वेरा के सेवन से शरीर का वजन संतुलित रहता हैं। एलो वेरा के नियमित इस्तेमाल से मोटापे को कम किया जा सकता हैं। मोटापे से शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ने से ह्रदय रोग होता हैं. इसलिए एलोवेरा के जूस के सेवन से शरीर में ताजगी और स्फूर्ति महसूस होती हैं।
  • एलो वेरा के सेवन से गठिया और जोड़ो के दर्द में फायदा होता हैं। गठिया का रोग बढ़ती उम्र के लोगो में ज्यादा होता हैं। आप एलोवेरा की सब्जी या जूस के रूप में भी इस्तेमाल करना फायदेमंद होता हैं। आप एलोवेरा के गूदे में थोड़ी हल्दी मिलाकर दर्द वाले स्थान पर कपडे की पट्टी से बांध लें. आपको जोड़ो के दर्द, गठिया, दर्द और सूजन में फायदा होगा।
  • आप एलो वेरा के गूदे में थोड़ी सी हल्दी मिलाकर घाव वाले स्थान पर पट्टी से बांध लें। जख्म या घाव और मुँह के छाले भी एलोवेरा के इस्तेमाल से ठीक होते हैं, एलो वेरा जूस के सेवन से पीलिया रोग भी नही होता हैं।
  • Aloe vera के नियमित रूप से इस्तेमाल से डाइबिटीज या मधुमेह की समस्या दूर हो जाती हैं। सुबह के समय एलो वेरा के रस में आवला का रस मिलाकर लेने से मधुमेह की बीमारी में काफी फायदा होता हैं।

ज्योतिष सम्बन्धित उपाय जानने और अपनी किसी भी परेशानी को ज्योतिष उपाय से दूर करने के लिए यंहा क्लिक करें : Click Here

  • एलो वेरा में एंटी-ऑक्सीडेंट गुण होने के कारण कैंसर जैसे रोग होने का खतरा कम होता हैं। एलोवेरा शरीर में कैल्शियम की कमी को दूर करता हैं।
  • सुबह खली पेट थोड़ा एलो वेरा के सेवन करने से शरीर में ताजगी का अनुभव होता हैं। एलोवेरा में बहुत से विटामिन, मिनरल और पोषक पदार्थ होते हैं. जो शरीर को ऊर्जा प्रदान करते हैं।
  • Aloe vera gel त्वचा को moisturized रखता हैं। एलोवेरा के इस्तेमाल से त्वचा स्वस्थ, सुदंर, कोमल और जवान दिखाई देती हैं। एलो वेरा में त्वचा को सुन्दर बनाने के गुणों के कारण समय से पहले बुढ़ापा आने के लक्षणों को रोकता हैं। एलोवेरा के जेल को निकल कर इसे चेहरे, गर्दन और त्वचा पर लगाए और हलकी मसाज करे। इससे त्वचा की खराबी, सूखापन, झुर्रिया, आँखों के काले घेरे और दाग-धब्बे दूर होने लगते हैं।
  • Aloe vera hair growth को बढ़ाता हैं। यह बालो को झड़ने से रोकता हैं, साथ ही dandruff को भी दूर करता हैं. एलो वेरा के जेल को बालो में लगाए और एक घंटे बाद साफ पानी से धो लें। यह बालो को पोषण देकर उनकी जड़ो को मजबूत करता हैं।
  • एलो वेरा जेल को मुँह पर लगाने से यह धुप की किरणों से सुरक्षा करता हैं। फटी हुई एड़ियों पर एलो वेरा जेल लगाने से ये ठीक हो जाती हैं।

ज्योतिष सम्बन्धित उपाय जानने और अपनी किसी भी परेशानी को ज्योतिष उपाय से दूर करने के लिए यंहा क्लिक करें : Click Here

एलो वेरा त्वचा और शरीर के लिए हर प्रकार से फायदेमंद हैं. परन्तु आप जानते हैं की किसी भी चीज का ज्यादा सेवन भी नुकसान देता हैं. इसलिए एलो वेरा का सेवन हफ्ते में दो – तीन बार से ज्यादा नही करे। महिलायर गर्भावस्था या मासिक-धर्म के समय इसका सेवन नही करें। बवासीर और मधुमेह के रोगी डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *