My Blog

My WordPress Blog

बदहजमी के उपाय !! Badhazmi Ke Upay

बदहजमी के उपाय [ Badhazmi Ke Upay ] : 

आज हम आपको बदहजमी के कुछ घरेलु उपाय बताने जा रहे है इससे उपयोग में लेने से आपको फायदा होगा ! नोट : इस लेख में बदहजमी रोगियों के लिए कुछ देसी नुस्खे पेश किए गए हैं। इनमें से किसी को भी आजमाने से पूर्व अपने चिकित्सक से राय अवश्य लें।

  • अदरक की चाय पीना भी अपच से राहत पाने का आसान तरीका है।आप चाहें तो ग्रीन जिंजर टी, या लेमन जिंजर टी पी कर भी राहत पा सकते हैं। आप चाहें तो ब्लैकबेरी जिंजर टी भी पी सकते हैं। ध्यान रहे की आप चाय में थोड़ी चीनी जरूर डालें ताकी आपको एसिडिटी ना हो।Badhazmi ke gharelu nukhse
  • खाना खाने के बाद पीपल के चूर्ण को शहद के साथ खाने से लाभ मिलता है !
  • भोजन हमेशा समय पर करें.
  • अजवायन ४ ग्राम कला नमक ४ ग्राम तुलसी के सूखे पत्ते २ ग्राम हींग २ ग्राम इन सब को मिला कर दिन में ३ बार उपयोग करने से लाभ मिलता है !
  • हल्का भोजन करने के बाद काला नमक 5 ग्राम गर्म पानी में मिलाकर पीने से राहत मिलेगी।
  • छाछ में लवण भास्कर चूर्ण मिलाकर दिन में ३ बार पिने से लाभ मिलता है !
  • प्रतिदिन सुबह देसी शहद में निम्बू रस मिलाकर चाट लें. 
  • यदि घी से बदहजमी होती है तो छाछ में सेंधा नमक मिलाकर पिने से फायदा मिलता है !badhazmi ka gharelu ilaj

  • हींग, लहसुन, चद गुप्पा ये तीनो बूटियाँ पीसकर गोली बनाकर छाँव में सुखा लें, व् प्रतिदिन एक गोली खाएं.
  • आंवले के चूर्ण में शहद मिलकर चाटने से लाभ मिलता है ! यदि शहद ना है तो घी में मिला लें . या सीधे पानी के साथ भी ले सकते है !
  • भोजन से पहले अदरक को चिप्स की तरह बारीक कतर लें। इन चिप्स पर पिसा काला नमक बुरक कर खूब चबा-चबाकर खा लें फिर भोजन करें। इससे अपच दूर होती है, पेट हलका रहता है और भूख खुलती है।
  • १ नीबूं के रस में ५ या ६ चम्मच बूरा मिलकर खाने से फायदा मिलता है !Badhazmi ke ayurvedic upay
  • आपको अपच की समस्या है तो थोडे से अदरक को छील कर धो लें। अब इसे कूटें और एक कप में इसका रस निकाल कर हर रोज पीएं। आपको निश्चित रूप से तुरंत राहत मिलेगी। 
  • खाने का सोडा १ चम्मच, १ चम्मच बूरा को मिलाकर पानी के साथ लेने से फायदा मिलता है !
  • बदहजमी या आंतों में मल सूखने पर पेट में मरोड़ होता है। पेट में मरोड़ से राहत पाने के लिए हींग, सोंठ और काली मिर्च तीनों को बराबर मात्रा में बारीक पीस कर दो ग्राम चूर्ण भोजन के बाद गुनगुने पानी के साथ सुबह-शाम लेने से फायदा होता है।
  • अदरक के २ चम्मच रस में हल्का सा शहद या गुड मिलाकर पीने से फायदा होता है !
  • भोजन से पहले अदरक को चिप्स की तरह बारीक कतर लें। इन चिप्स पर पिसा काला नमक बुरक कर खूब चबा-चबाकर खा लें फिर भोजन करें। इससे अपच दूर होती है, पेट हलका रहता है और भूख खुलती है। Badhazmi ke upchar

  • सोंठ, अजवायन १० ग्राम, काला नमक, तीनो को बारीक़ पिस कर २ २ चम्मच लेने से लाभ मिलता है !
  • भोजन के समय सादे पानी के बजाये अजवायन का उबला पानी प्रयोग करें.
  • इस रोग से पीड़ित रोगी को बार-बार भोजन नहीं करना चाहिए बल्कि भोजन करने का समय बनाना चाहिए और उसी के अनुसार भोजन करना चाहिए। रोगी व्यक्ति को भोजन उतना ही करना चाहिए जितना कि उसकी भूख हो। भूख से अधिक भोजन कभी भी नहीं करना चाहिए। रोगी व्यक्ति को भोजन कर लेने के बाद सोंफ खानी चाहिए और तुरंत पेशाब करना चाहिए और इसके बाद वज्रासन पर बैठ जाना चाहिए। इससे रोगी व्यक्ति को बहुत अधिक लाभ मिलता है।
  • लहसुन, जीरा १० ग्राम घी में भुनकर भोजन से पहले खाएं.
  • रोगी व्यक्ति को मिर्च-मसाले, तले-भुने खाद्य, मिठाइयों, चीनी, मैदा आदि का भोजन में उपयोग नहीं करना चाहिए तभी अपच रोग पूरी तरह से ठीक हो सकता है।
  • खाना खाने के बाद में अदरक खाने से फायदा मिलता है !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

My Blog © 2018 Frontier Theme