Astro Pandit Ji

Kundli Upay, Lali Kitab Upay, Jyotish Upay, Pitr Upay, Mnaglik Upay, Shadi Upay, Rashinusar Upay

Category: आरती

शीतला माता की आरती !! Sheetla Mata Ki Aarati

शीतला माता की आरती [ Sheetla Mata Ki Aarati ] : जय शीतला माता, मैया जय शीतला माता, आदि ज्योति महारानी सब फल की दाता। जय शीतला माता…  रतन सिंहासन शोभित, श्वेत छत्र भ्राता, ऋद्धि-सिद्धि चंवर ढुलावें, जगमग छवि छाता। जय शीतला माता…  विष्णु सेवत ठाढ़े, सेवें शिव धाता, वेद पुराण बरणत पार नहीं पाता […]

आरती भैरव जी की !! Aarati Bhairav Ji Ki

आरती भैरव जी की [ Aarati Bhairav Ji Ki ] : जय भैरव देवा प्रभु जय भैरव देवा । जय काली और गौरा देवी कृत सेवा ॥ जय॥ तुम्ही पाप उद्धारक दुःख सिन्धु तारक । भक्तों के सुख कारक भीषण वपु धारक ॥ जय॥ वाहन श्वान विराजत कर त्रिशूल धारी । महिमा अमित तुम्हारी जय […]

श्री महालक्ष्मी जी की आरती !! Shri MahaLakshmi Ji Ki Arati

श्री महालक्ष्मी जी की आरती [ Shri MahaLakshmi Ji Ki Arati ] :  ।। आरती श्री महालक्ष्मी जी की।। ॐ जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता। मैया… तुमको निसिदिन सेवत, हर –विष्णु-विधाता।। ॐ…. ब्रह्माणी, रुद्राणी, कमला, तुम ही जग माता। मैया.. सूर्य- चंद्रमा ध्यावत, नारद ऋषि गाता।। ॐ…. दुर्गारूप निरंजनि, सुख- संपत्ति दाता। मैया…. […]

अहोई अष्टमी की आरती !! Ahoi Ashtami Ki Aarati

अहोई अष्टमी की आरती [ Ahoi Ashtami Ki Aarati ] :  जय अहोई माता, जय अहोई माता! तुमको निसदिन ध्यावत हर विष्णु विधाता। टेक।। ब्रह्माणी, रुद्राणी, कमला तू ही है जगमाता। सूर्य-चंद्रमा ध्यावत नारद ऋषि गाता।। जय।। माता रूप निरंजन सुख-सम्पत्ति दाता।। जो कोई तुमको ध्यावत नित मंगल पाता।। जय।। तू ही पाताल बसंती, तू […]

ॐ जगजननी जय जय आरती !! Om Jagjanani Jai Jai Aarti

ॐ जगजननी जय जय आरती [ Om Jagjanani Jai Jai Aarti ] : !! Om Jagjanani Jai Jai Aarti in hindi !! ॐ जगजननी जय! जय! माँ! जगजननी जय! जय! भयहारिणी, भवतारिणी, भवभामिनि जय जय। माँ जगजननी .. तू ही सत्-चित्-सुखमय, शुद्ध ब्रह्मरूपा। सत्य सनातन, सुन्दर पर-शिव सुर-भूपा॥ माँ जगजननी .. आदि अनादि, अनामय, अविचल, […]

श्री गणेश आरती !! Shri Ganesh Aarti

श्री गणेश आरती [ Shri Ganesh Aarti ] :  जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा । माता जाकी पार्वती पिता महादेवा ॥ एकदन्त दयावन्त चारभुजाधारी । माथे सिंदूर सोहे मूसे की सवारी ॥ पान चढ़े फूल चढ़े और चढ़े मेवा । माता जाकी पार्वती पिता महादेवा॥ अंधन को आँख देत कोढ़िन को काया । […]

Astro Pandit Ji © 2016 Frontier Theme
Contact Us
[contact-form-7 404 "Not Found"]