Category Archives: योग आसन के लाभ

उत्कटासन योग ( Utkatasana Yoga Ke Labh )

उत्कटासन योग ( Utkatasana Yoga Ke Labh ) : Utkatasana Yoga – उत्कटासन में शरीर का पूरा भार पंजों पर होता है और शरीर कुछ ऊपर उठा होता है। इस आसन से योगियों को चरम सीमा पर पहुंचाने वाली कुण्डलिनी शक्ति जागृत होती है। नाभि की विकृति से ही पूरे शरीर में अनेक प्रकार की बीमारियां उत्पन्न… Read More »

उत्तानपादासन योग ( Uttanpadasana Yoga )

उत्तानपादासन योग ( Uttanpadasana Yoga in Hindi ) : उत्तानपादासन योग ( Uttanpadasana Yoga ke Labh in Hindi ) : पहली विधि : Uttanpadasana Yoga – इस आसन को हवादार, स्वच्छ व शांत जगह पर करना चाहिए। इस आसन के लिए फर्श पर दरी या चटाई बिछा लें। चटाई पर पीठ के बल लेट जाएं… Read More »

उत्तान कूर्मासन योग ( Uttana Kurmasana Yoga )

उत्तान कूर्मासन योग ( Uttana Kurmasana Yoga ) : उत्तान कूर्मासन योग ( Uttana Kurmasana Yoga ke Labh in Hindi ) : आसन का अभ्यास : उत्तान कूर्मासन के अभ्यास के लिए नीचे दरी या चटाई बिछाकर बैठ जाएं। फिर दोनों पैरों को घुटनों से मोड़कर नितम्ब के नीचे रख लें। पंजों को मिलाकर एड़ियों… Read More »

उदराकर्षासन योग ( Udarakarshanasana Yoga )

उदराकर्षासन योग ( Udarakarshanasana Yoga ) : आसन की विधि (Udarakarshanasana Yoga Vidhi) : Udarakarshanasana Yoga – उदराकर्षासन का अभ्यास स्वच्छ व साफ स्थान पर करें तथा इस आसन के लिए नीचे दरी बिछाकर बैठ जाएं। अब बाएं पैर को घुटने से मोड़कर नितम्ब (हिप्स) के नीचे रखें तथा घुटने व पंजे को फर्श से… Read More »

उपविष्टासन योग ( Upvasishta Yoga Ke Labh )

उपविष्टासन योग के लाभ ( Upvasishta Yoga Ke Labh ) : उपविष्टासन योग के लाभ( Upvasishta Yoga ke Labh in Hindi ) : आसन की विधि (Upvasishta Yoga ki Vidhi) : Upvasishta Yoga – स्वच्छ-साफ व हवायुक्त स्थान पर नीचे दरी या चटाई बिछाकर उपविष्टासन आसन का अभ्यास करें। आसन के लिए पहले नीचे बैठ जाएं।… Read More »

उर्ध्वहस्तोत्तानासन योग ( Urdhva Hastottnasan Yoga )

उर्ध्वहस्तोत्तानासन योग ( Urdhva Hastottnasan Yoga ) : उर्ध्वहस्तोत्तानासन योग ( Urdhva Hastottnasan Yoga ke Labh in Hindi ) : परिचय- Urdhva Hastottnasan Yoga – उर्ध्वहस्तोत्तानासन का अभ्यास खुले व हवादार स्थान पर करें। इस आसन को करने से शरीर में खिंचाव पैदा होता है और अनेक रोगों में लाभ होता है। यह शंख प्रक्षालन… Read More »

उष्टासन योग ( Ustrasana Yoga Ke Labh )

उष्टासन योग ( Ustrasana Yoga ) : उष्टासन योग ( Ustrasana Yoga Ke Labh in Hindi ) : परिचय : उष्टासन आसन के अभ्यास में व्यक्ति ऊंट की तरह गर्दन उठाकर अभ्यास करता है। इसलिए इसे योग में उष्टासन कहा गया है। इसके अभ्यास से गले की ग्रंथियों की शिकायत दूर होती है और रीढ़… Read More »

उष्ट्रासन योग ( Ushtrasana Yoga Ke Labh )

उष्ट्रासन योग ( Ushtrasana Yoga ) : उष्ट्रासन योग ( Ushtrasana Yoga in Hindi ) : परिचय : उष्ट्रासन को दो तरह से किया जाता है। इस आसन का अभ्यास अनेक रोगों में लाभकारी होता है तथा योग में इस आसन को महत्वपूर्ण आसन माना गया है। आसन की विधि (Ushtrasana Yoga ki Vidhi) –… Read More »

ऊर्ध्व पद्मासन योग ( Urdhva Padmasana Yoga )

ऊर्ध्व पद्मासन योग ( Urdhva Padmasana Yoga ) : ऊर्ध्व पद्मासन योग ( Urdhva Padmasana Yoga in Hindi ) : परिचय : शीर्षासन का अभ्यास पूर्ण रूप से होने के बाद ही इस आसन को करना चाहिए। शीर्षासन के अभ्यास के बिना इस आसन को करने से गर्दन में मोच या चोट लगने तथा गिरने… Read More »

ऊर्ध्व हस्तोतानासन योग ( Urdhva hastasana Yoga )

ऊर्ध्व हस्तोतानासन योग ( Urdhva hastasana Yoga ) : ऊर्ध्व हस्तोतानासन योग ( Urdhva hastasana Yoga in Hindi ) : इस आसन में दोनों हाथों की अंगुलियों को आपस में फंसाकर ऊपर की ओर खींचा जाता है इसलिए इसका नाम ऊर्ध्व हस्तोतानासन रखा गया है। 10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की… Read More »