Ghar Me Sukh Shanti Ke Upay aur Sukhi Vaivahik Jeevan Ke Upay

By | June 15, 2016

Sukhi Vaivahik Jeevan Ke Upay aur Ghar Me Sukh Shanti Ke Upay in Hindi :

Ghar Me Sukh Shanti Ke Upay aur Sukhi Vaivahik Jeevan Ke Upay – दोस्तों यदि आप घर में होने वाले झगड़ो से परेशान हैं। परिवार में छोटी छोटी बातों को लेकर मतभेद हो जाता हैं और घर में अशांति का माहौल रहता हैं और आप इन सब का उपाय खोज रहे हैं। तो आज हम आपको Ghar Me Sukh Shanti Ke Upay, Sukhi Vaivahik Jeevan Ke Upay, dampatya jivan sukhi banane ke upay, Pati Aur Patni Ki Ladai Ke Upay और Husband Wife Ka Jhagra Khatam Karne Ka Saral Upay के बारे में बताएंगे, जिनसे आपको कुछ फायदा हो। शादी दो परिवार और आत्माओं का मिलन हैं. इसलिए पति और पत्नी को साथ मिलकर एक दूसरे की भावनावो को समझ कर काम करना चाहिए। दोनों को एक दूसरे को समझने के लिए समय देना चाहिए। हर आदमी में खुद का दिमाग होता हैं यदि वो शांति से काम करे और दूसरों की भावनावो और विचारों को सुने तो आसानी से कार्य हो जाता हैं। कभी कभी दूसरों की खुसी में खुद खुश होकर देखना चाहिए, पति और पत्नी को एक दूसरे को खुस रखने का प्रयास करना चाहिए। जो पति और पत्नी एक दूसरे से खुश रहे वाही असल में आदमी कहलाता हैं नहीं तो वह पशु के बराबर हैं। फिर भी हम आज आपको कुछ Ghar Me Sukh Shanti Ke Upay, Sukhi Vaivahik Jeevan Ke Upay और Husband Wife Ka Jhagra Khatam Karne Ka Saral Upay के बारे में बताते हैं –

Sukhi Vaivahik Jeevan Ke Upay

परिवार में सुख शांति के उपाय (Ghar Me Sukh Shanti Ke Upay aur Sukhi Vaivahik Jeevan Ke Upay) :

  • सुबह मुख्य दरवाजे के बाहर से सफाई करके एक गिलास पानी छिड़क दें। इससे घर में धन की बरकत होती है।
  • अशोक का पेड़ लगाने और उसको सींचने से धन में वृद्धि होती है।
  • अशोक के पेड़ की जड़ का एक टुकड़ा पूजा घर में रखने और रोजाना उसकी पूजा करने से घर में धन की कमी नहीं रहती।
  • सूर्योदय के समय यदि घर की छत पर काले तिल बिखेर दें तो घर में सुख समृद्धि बनी रहती है।
  • पानी की बाल्टी में 2 चम्मच नमक डाल दें फिर पोंछा लगाएं। इससे नकारात्मक शक्तियों का नाश होता है।

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : 7821878500

  • यदि पति-पत्नी में झगड़ा होता रहता है, तो पूजा घर में मंगल यंत्र रखें। साथ ही रोज रसोई बनाने के पश्चात् चूल्हे को दूध से ठंडा करें। इससे संबंधों में मधुरता आती है।
  • सदा पूर्व या दक्षिण दिशा की ओर सिर करके सोएं। पूर्व की तरफ सिर करके सोने से विद्या की प्राप्ति होती है। दक्षिण दिशा की ओर सिर करके सोने से धन और आयु में वृद्धि होती है।
  • तुलसी के गमले में दूसरा कोई पौधा ना लगाएं। तुलसी हमेशा घर के पूर्व या उत्तर दिशा में लगाएं।
  • मकान के उत्तरी एवं पूर्वी भाग में खाली जगह अधिक हो। इससे व्यापार वृद्धि के साथ आर्थिक उन्नति में भी वृद्धि होती है।
  • तिजोरी के लॉकर में हमेशा दो बॉक्स रखें. एक में कुछ रूपए रख कर बंद कर दें और उसमें से रूपए ना निकालें। दूसरे बॉक्स में से काम के लिए रूपए निकालें।
  • घर में पड़ा टूटा-फूटा फर्नीचर, बर्तन, कांच, फटे हुए कपड़े और कतरनें पड़ी हों तो तुरंत घर से निकाल दें।
  • प्रतिदिन प्रातः पूजा करते समय शंखनाद करना चाहिए। 
  • दांपत्य सुख में कमी हो तो दोमुखी रुद्राक्ष और गौरीशंकर रुद्राक्ष इन दोनों को धारण करने से वह कमी पूरी हो जाती है और दांपत्य सुख की प्राप्ति होती है। 
  • विवाह के बाद जब कन्या की विदाई होने वाली हो तो किसी पीले रंग की धातु के लोटे में गंगाजल लेकर, उसमें थोड़ी सी पिसी हल्दी मिलाएं और 1 तांबे का सिक्का डालकर कन्या के ऊपर से नजर उतार दें और उसके आगे गिरा दें। इस उपाय से दांपत्य जीवन सदा सुखी रहता है। (Ghar Me Sukh Shanti Ke Upay aur Sukhi Vaivahik Jeevan Ke Upay).
  • कन्या जब ससुराल घर में प्रवेश करती है तो यदि वह चुपचाप मेंहदी में मिले हुए साबुत उड़द गिरा दे और फिर प्रवेश करे तो उसका दांपत्य जीवन सदा सुखी रहता है।
  • यदि पत्नी को पति अधिक समय नहीं दे पाता तो पत्नी केले के वृक्ष का पूजन और देवताओं के गुरु वृहस्पति की आराधना करे तो कुछ ही दिनों में सकारात्मक असर होने लगता है।
  • गाय के गोबर का दीपक बनाकर उसमें गुड़ तथा मीठा तेल डालकर जलाएं। फिर इसे घर के मुख्य द्वार के मध्य में रखें। इस उपाय से भी घर में शांति बनी रहेगी तथा समृद्धि में वृद्धि होगी।

ज्योतिष सम्बन्धित उपाय जानने और अपनी किसी भी परेशानी को ज्योतिष उपाय से दूर करने के लिए यंहा क्लिक करें : Click Here

  • एक नारियल लेकर उस पर काला धागा लपेट दें फिर इसे पूजा स्थान पर रख दें। शाम को उस नारियल को धागे सहित जला दें। यह टोटका 9 दिनों तक करें।
  • घर में तुलसी का पौधा लगाएं तथा प्रतिदिन इसका पूजन करें। सुबह-शाम दीपक लगाएं। इस उपाय को करने से घर में सदैव शांति का वातावरण बना रहेगा।
  • अगर घर में सदैव अशांति रहती हो तो घर के मुख्य द्वार पर बाहर की ओर श्वेतार्क (सफेद आक के गणेश) लगाने से घर में सुख-शांति बनी रहेगी। 
  • यदि किसी बुरी शक्ति के कारण घर में झगड़े होते हों तो प्रतिदिन सुबह घर में गोमूत्र अथवा गाय के दूध में गंगाजल मिलाकर छिड़कने से घर की शुद्धि होती है तथा बुरी शक्ति का प्रभाव कम होता है। (Ghar Me Sukh Shanti Ke Upay aur Sukhi Vaivahik Jeevan Ke Upay).
  • जो व्यक्ति यह समझते हैं कि घर के लोग उसकी बात को गंभीरता से नहीं लेते, जबकि वह हमेशा सही होता है। ऐसे व्यक्ति को नियमित रूप से जल में थोड़ा-सा गुड मिलाकर नीचे दिए गए मंत्र का जाप करने के साथ सूर्य को अर्घ्य देना चाहिए।मंत्र – ऊँ घृणिः सूर्याय नमः ।
  • पारिवारिक झगड़े या घर के नित नए क्लेश के कारण मन अशांत रहता है, तो मिट्टी के कुल्लड़ में थोड़ा सा कच्चा दूध (बिना उबाला हुआ) लेकर उसमें कुछ बूंदे शहद की मिलाएं और उसे घर की छत, सभी कमरों, आंगन और मुख्य द्वार पर छिड़क दें। राहत मिलेगी।यदि घर में किसी भी चीज की संपन्नता स्थिर नहीं रह पाती है. तो महालक्ष्मी यंत्र को स्थापित करें, शाम के समय यंत्र का मन में स्मरण करते हुए श्रीं श्रिययै नमः का नियमित जाप करें। आप जितनी अधिक संख्या में इस मंत्र का जाप करेंगे, उतना ही लाभ मिलेगा। ध्यान रखें महालक्ष्मी यंत्र की स्थापना विषय विशेषज्ञ से ही करवाएं।
  • घर में आपको या आपके घर के किसी परिजन को किसी से डर लगता है, तो आप पूजा स्थल में किसी विद्वान ब्रह्मण से श्री गायत्री मंत्र की स्थापना कराएं और गायत्री मंत्र ऊँ भूर्भुवः स्वः तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो नः प्रचोदयात् का नित्य जाप करें। यदि आपके घर में प्रतिदिन कोई न कोई मुसीबत आती रहती है और आपको लगता है कि कोई आप पर बुरी शक्तियों का उपयोग कर रहा है, तो आप किसी भी माह के शुक्लपक्ष में सोमवार को पंडित से नवदुर्गा यंत्र को घर के मुख्य द्वार पर लगाकर रोज 21 बार ऊँ ह्रीं दुर्गायै नमः का जप करें।
  • यदि घर में कोई न कोई अनर्थ होता रहता है, तो किसी शुभ समय में गंगाजल में पिसी हल्दी मिलाकर, उससे मुख्य द्वार के दोनों ओर ऊँ और स्वास्तिक का चिह्न बना दें।
  • श्रीमद्भागवत गीता के 11वें अध्याय के 36वें श्लोक को गत्ते पर लाल स्याही से लिखकर टांग देने से घर की समस्त बाधाओं का अंत हो सकता है।

Ghar Me Sukh Shanti Ke Upay

Husband Wife Ka Jhagra Khatam Karne Ka Saral Upay aur Ghar Me Sukh Shanti Ke Upay aur Sukhi Vaivahik Jeevan Ke Upay :

क्या आपके घर में अशांति का माहोल रहता हैं ? आप ऐसे माहोल से गुजर रहे हो तो अब कोई परेशानी होने की बात नही हैं ! यदि आप अपने घर में खुशहाली व शांति बनाये रखना चाहते हो तो करे ! (Ghar Me Sukh Shanti Ke Upay aur Sukhi Vaivahik Jeevan Ke Upay) एक छोटा सा ज्योतिष उपाय और खुद देखे इसका असर –

ज्योतिष सम्बन्धित उपाय जानने और अपनी किसी भी परेशानी को ज्योतिष उपाय से दूर करने के लिए यंहा क्लिक करें : Click Here

  • शुक्ल पक्ष के बृहस्पति को यह क्रिया शुरू करें तथा 11 बृहस्पतिवार तक लगातार करें. घर या व्यापार स्थल के मुख्य द्वार के एक कोने को गंगा जल से धो लें। इसके बाद स्वास्तिक बनाएं. उस पर चने की दाल तथा थोड़ा-सा गुड़ रख दे। इसके बाद स्वास्तिक को बार-बार देखें. अगर वह खराब हो जाए तो सामान को इकट्ठा करके जल प्रवाह करें.11 बृहस्पतिवार के बाद गणेश जी को सिंदूर लगाकर उनके सामने पांच लड्डू रखें तथा घर में खुशहाली व शांति का माहौल बनने लगेगा
  • यदि पति पत्नी का आपस में बिना बात के झगड़ा होता है और झगडे का कोई कारण भी नही होता तो अपने शयनकक्ष में पति अपने तकिये के नीचे लाल सिन्दूर रखे व पत्नी अपने तकिये के नीचे कपूर रखे। प्रात: पति आधा सिन्दूर घर में ही कहीं गिरा दें और आधे से पत्नी की मांग भर दें तथा पत्नी कपूर जला दे।
  • वह स्त्री सोमवार से यह उपाय आरम्भ करे। प्रथम सोमवार को अशोक वृक्ष के पास जाकर धुप-दीप से अर्चना कर अपनी समस्या का निवेदन कर जल अर्पित करें। सात पत्ते तोड़कर अपने घर के पूजास्थल में रख कर उनकी पूजा करें। अगले सोमवार को पुन:यह क्रिया दोहराएँ तथा सूखे पत्तों को मंदिर तथा बहते जल में प्रवाहित कर दें।
  • अगर आपका दाम्पत्य जीवन अशांत है. तो आप रात्री में शय न करते समय पत्नी अपने पलंग पर देशी कपूर तथा पति के पलंग पर कामिया सिन्दूर रखें. प्रातः सूर्य उदय के समय पति देशी कपूर को जला दें और पत्नी सिन्दूर को भवन में छिटका दें। इस उपाय से कुछ ही दिनों में कलह समाप्त हो जाती है।
  • नवरात्र में एक नए झाड़ू की दो सीकों को उल्टा सीधा रखकर नीले धागे से बांधकर घर के नैत्रत्य कोण ( दक्षिण पश्चिम हिस्सा ) में रखने से पति पत्नी के मध्य प्यार बड़ता है। यह उपाय केवल नवरात्रा में करना है।

ज्योतिष सम्बन्धित उपाय जानने और अपनी किसी भी परेशानी को ज्योतिष उपाय से दूर करने के लिए यंहा क्लिक करें : Click Here

  • नवरात्र में दो जमुनिया रत्न लेकर उसे गंगा जल में डुबोकर घर के मंदिर में रखे फिर हर शनिवार को माता दुर्गा का स्मरण करते हुए उस जल को पूरे घर में छिड़क दें, घर के सदस्यों के बीच में प्रेम बड़ने लगेगा । इसके बाद पुन: इन रत्नों को गंगा जल में डुबोकर मंदिर में रख दें ।इस प्रयोग को नवरात्र से ही शुरू करें तो अति उत्तम है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *