मुस्लिम वशीकरण का मन्त्र !! Muslim Vashikaran Ka Mantra

By | June 26, 2017

मुस्लिम वशीकरण मन्त्र [ Muslim Vashikaran Mantra ] : 

आज हम आपको मुस्लिम वशीकरण मन्त्र साधना Most Powerful Muslim Vashikaran Mantra विधि करना बताने जा रहे है इससे आप करके किसी को भी अपने वश में कर सकते हो इससे आप बिना गुरु के कभी नही करनी चाहिए और ना इसका प्रयोग वैर वश करना चाहिए वरना यह सिद्दी आपको भी नुकसान कर सकती है !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! 

आगे पढ़े : Vashikaran Karne Ke Upay : Click Here

मुस्लिम वशीकरण मन्त्र :

“आगिशनी माल खानदानी। इन्नी अम्मा, हव्वा यूसुफ जुलैखानी। ‘फलानी’ मुझ पै हो दीवानी। बरहक अब्दुल कादर जीलानी।” 

मुस्लिम वशीकरण मन्त्र विधि :

पूरा प्रयोग २१ दिन का है, किन्तु ११ दिन में ही इसका प्रभाव दिखाई देने लगता है। इस प्रयोग का दुरुपयोग कदापि नहीं करना चाहिए, अन्यथा स्वयं को भी हानि हो सकती है। साधना-काल में मांस, मछली, लहसुन, प्याज, दूध, दही, घी आदि वस्तुओं का प्रयोग नहीं करना चाहिए। स्नान करके स्वच्छ वस्त्र पहन कर साधना करनी चाहिए। पवित्रता का विशेष ध्यान रखना चाहिए। लम्बी धोती या स्वच्छ वस्त्र को ‘अहराना’ की तरह बाँध कर साधना करनी चाहिए। शेष बची हुई धोती या कपड़े को शरीर पर लपेटते हुए सिर को ढँक लेना चाहिए। एक ही कपड़े से पूरा शरीर ढँकना चाहिए, जैसे हिन्दू-स्त्रियाँ पहनती है। female Muslim vashikaran mantra

उक्त मन्त्र की साधना रात्रि में, जब ‘नमाज’ आदि का समय समाप्त हो जाता है, तब करनी चाहिए। साधना करने से पहले मुसलमानी विधि से वजू करे। हो सके, तो नहा ले। जप या तो हिन्दू-विधि से करे या मुसलमानी विधि से। हिन्दू-विधि में माला का दाने अपनी तरफ घुमाए जाते हैं। मुसलमानी विधि में माला के दाने अपनी तरफ से आगे की ओर खिसकाए जाते हैं। प्रतिदिन ११०० बार जप करे। यदि ११ दिन से पहले ‘साध्य’ आ जाए, तो न तो अधिक घुल-मिल कर बात करे, न ही किसी प्रकार का क्रोध करे। कोई बहाना बनाकर उसके पास से हट जाए। यदि ११ दिन में कार्य न हो तो २१ दिन तक जप करे। मन्त्र में ‘फलानी’ की जगह ‘साध्या’ का नाम लेना चाहिए। Muslim vashikaran mantra for marriage 

यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, लाल किताब कुंडली बनवाना चाहते हो या किसी समस्या से परेशान चल रहे हो तो कॉल करें : 7821878500

आगे पढ़े : Vashikaran Karne Ke Upay : Click Here

नोट : यह तिलक का गलत उपयोग करने पर इसके लाभ और हानि का जिम्मेदार जातक खुद स्वयं होगा !! 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *