पांच मुखी रुद्राक्ष !! Panch Mukhi Rudraksha

By | July 27, 2016

पांच मुखी रुद्राक्ष [ Panch Mukhi Rudraksha ] :

पांच मुखी रुद्राक्ष : चार मुखी रुद्राक्ष विष्णु, शिव, गणेश, सूर्य और देवी का रूप है ! यह पञ्च तत्वों का प्रतिक भी है ! इस वाले रुद्राक्ष में पांच धार होती है यह बहुत दुर्लभ रुद्राक्ष माना जाता है !! यह भगवान पशुपतिनाथ शिव जी प्रतिक भी है इससे रुद भी कहते है ! 
आगे पढ़े : कैसे करें रुद्राक्ष की पहचान : Click Here
Make Janam Kundli [ कुंडली बनवाने के लिए ] : Click Here

  • पांच मुखी रुद्राक्ष के धारण करने के फायदे और लाभ : चार मुखी रुद्राक्ष धारण करने से अभक्ष्याभक्ष्य एवं स्त्रीगमन जैसे पाप से मुक्ति मिलाती है सब तरह के सुख की प्राप्ति ( Panch mukhi rudraksha benefits ) होती है ! साथ ही आपकी सब तरह की परेशानी दूर होने के साथ साथ आपकी मनोकामना ( Panch mukhi rudraksh ke fayde ) भी पूर्ण होती है !
  • Join Pandit Ji Facebook Id : Click Here
  • Get Consultation for Astrology : Click Here

  • पांच मुखी रुद्राक्ष को धारण कब करें : इस रुद्राक्ष को आप शुक्ल पक्ष सोमवार, मेष संक्रांति,पूर्णिमा, अक्षय त्रितय, दीपावली, चेत्र शुक्ल प्रतिपदा, अयन परिवर्तन काल ग्रहण काल, गुरु पुष्य, रवि पुष्य, द्वि और त्रिपुष्कर योग के दिन में रुद्राक्ष धारण ( Panch mukhi rudraksh dharan vidhi ) करना चाहिए !! इससे धारण करने से पहले गंगाजल, दही, शहद, कच्चा दूध, गोमुत्र  से धो ले इससे आप लाल धागे या सोने या चांदी के तार में पिरो कर ही धारण करे इससे धारण करते समय निम्न मंत्र ” ऊँ ह्रीं नम: ” ( Panch mukhi rudraksha mantra ) का जाप करना चाहिए इस मंत्र को आपको प्रतिदिन एक माला जाप करनी चाहिए जिससे इसका प्रभाव कई गुना बढ़ जाता है !!
    • आगे पढ़े  : छह मुखी रुद्राक्ष [ Chheh Mukhi Rudraksha ] : Click Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *