वास्तु के अनुसार स्टडी रूम !! Vastu For Study Room

By | August 1, 2016

वास्तु के अनुसार स्टडी रूम [ Vastu For Study Room ] :

क्या आपके बच्चे का पढाई में मन नही लगता क्या ? जो भी याद करता है क्या भूल जाता है ? कभी आपने ध्यान दिया ऐसा क्यों होता है कभी आपके बच्चे का पढ़ने वाला कमरे में वास्तु दोष तो नही है ? यदि ऐसा कुछ है तो आज हम आपको स्टडी रूम के कुछ वास्तु टिप्स ( Tips for Vastu Compliant Study Room ) दे रहे है जिससे आपको और आपके बच्चे को पढाई में कोई परेशानी नही होगी और साथ साथ वो एग्जाम में अच्छे नम्बर में लायेगा !! बस आपको नीचे दिए गए टिप्स को अनुसार आपको उसका स्टडी का कमरा तैयार करना है !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !!

  • पढाई वाले कमरे की हर दिन साफ़ सफाई रखे, साथ ही कोई भी टुटा हुआ सामना का उपयोग ना करें !
  • विधार्थी को अपने कमरे में हो सके तो हरे रंग के परदे लगाने चाहिए !
  • जिस टेबल पर आप पढ़ते है उस पर educatin  tower रखें !
  • मकान में पढाई का कमरा ईशान कोण यानि की उत्तर और पूर्व में होना चहिये क्युकी यह कोण गुरु ग्रह का है और गुरु ज्ञान का प्रतिक है ! ( best direction for students to study )
  • Make Janam Kundli [ कुंडली बनवाने के लिए ] : Click Here

  • आगे पढ़े : परीक्षा में सफलता का मंत्र [ Pariksha Me Safalta Ka Mantra ] : Click Here
  • पढाई के कमरे के पास शोचालय कभी ना बनवाए इससे आपके दिमाग में नकारत्मक उर्जा आती है !
  • जब भी आप पढाई करो तो आपका मुंह ईशान कोण यानि उत्तर पूर्व की तरफ होना चाहिए और साथ ही अपनी पढाई की मेज भी वंहा की तरफ रखनी चाहिए ! इससे आपको सकारात्मक उर्जा मिलती है जिससे आपकी बुद्दि में विकास होता है !
  • पढाई करते हो उस टेबल को कभी दिवार से सटा कर नही रखनी चाहिए !
  • पढाई कभी लेटे लेटे और कमर झुकाकर नही करनी चाहिए जब भी पढाई करो तो सीधे बैठ कर और पढाई करने वाली बुक और आपकी आँखों की दुरी कम से कम १ फीट की होनी चाहिए !
  • पढाई करने वाले रूम में हलके रंगों ( Vastu Color for Study Room ) का प्रयोग करना चाहिए जैसे की गुलाबी, आसमानी, हल्का हरा, पीला, केसरिया आदि !
  • पढाई लेट रात तक नही करनी चाहिए इससे आपको तनाव, ज्यादा गुस्सा आना, आँखों में रोग, आदि समस्या होने लग जाती है ! रात में ज्यादा से ज्यादा ११ बजे तक ही पढाई करनी चाहिए ! पढाई करने वाले विधार्थी को कम से कम ६ से ८ घन्टे की नीदं लेनी चाहिए !
  • पढाई करने का सबसे अच्छा समय ब्रहमहूर्त ४ बजे का बताया है  इससे पढाई करने से आपके अन्दर सकारात्मक ऊर्जा आती है और जो भी आप पढ़ते है वो बहुत जल्दी याद हो जाता है !
  • अध्ययन कक्ष करने वाले कमरे में पढाई करने की वस्तुए, किताबे आदि की अलमारी पूर्व या उत्तर दिशा में होनी चाहिए ! अलमारी की सफाई हर दिन सभव ना हो तो ७ दिन में एक बार कर देनी चाहिए ! अलमारी में भगवान गणेश जी और माँ सरस्वती जी की फोटो लगानी चाहिए और हर रोज पूजा करनी चाहिए ! ( vastu tips for success in exams )
  • जिस रूम में आप पढाई करते है उस रूम की उत्तर दिशा की दिवार में तोते का पोस्टर लगाना चाहिए !
  • प्रशासनिक सेवा ( IAS, RAS आदि ), बी.एड, रेलवे, पुलिस आदि की तैयारी करने वाले विधार्थी का पढाई का कमरा पूर्व दिशा में होना चाहिए ! क्युकी उच्च पद और सरकारी पद का कारक सूर्य है जो पूर्व दिशा का स्वामी है !
  • आपके ज्योतिषी से परामर्श के लिए : Click Here
  • Join Pandit Ji Facebook Id : Click Here
  • पढाई वाले कमरे में माँ सरस्वती देवी की फोटो लगानी चाहिए !
  • पढ़ने वाले विधार्थी का सोते समय सिर दक्षिण दिशा में होना चाहिए !
  • इंजीनियरिंग ( B.Tech, M.Tech आदि ), डॉक्टर, लॉ, MCA, BBA आदि की पढाई करने करने वाले विधार्थी का पढाई का कमरा दक्षिण दिशा में होना चाहिए ! और टेबल आग्नेय कोण में होनी चाहिए इन सब पढाई का कारक मंगल है जो अग्नि कारक ग्रह है और यह दक्षिण दिशा का स्वामी है !
  • एकाउन्ट, संगीत, गायन, एमबीए, बैंक आदि की पढाई करने करने वाले विधार्थी का पढाई का कमरा उत्तर दिशा में होना चाहिए ! क्युकी इसमें वाणी एंव गणित का ज्ञान होना चाहिए और बुध इनका कारक है जो उत्तर दिशा का स्वामी है !
  • रिसर्च, वैज्ञानिक सम्बन्धी पढाई कर रहे है तो पढाई का पशिचम उत्तर दिशा में होना चाहिए ! पशिचम दिशा का स्वामी शनि है और शनि गम्मीर अध्ययन का ग्रह है !
    • आगे पढ़े : परीक्षा में सफलता के उपाय [ Pariksha Me Safalta Ke Upay ] : Click Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *